Saturday, November 01, 2008

प्रकृ्ति के रंग

अमेरिका में पतझड समाप्ति की ओर है, पेडों पर पत्तों के रंग हरे से पीले, नारंगी, लाल, गुलाबी रंगों में बदल कर गिर जाते हैं। कुछ तस्वीरें मासेचुसेट्स में मेरे घर के आस-पास से।।








Posted by Picasa

14 टिप्पणियां:

manvinder bhimber 11/01/2008 10:27:00 AM  

bahut khoobsurat......adbhutt

जितेन्द़ भगत 11/01/2008 10:43:00 AM  

जहॉं पेड़ हो, फूल हों और खूबसूरत झील हो, वहॉ प्रकृति‍ की खूबसूरती लाजवाब होती है। बहुत सुंदर जगह रहते हैं आप।

Gyan Dutt Pandey 11/01/2008 10:52:00 AM  

क्या बात है! कितनी मनोरम जगह में रहते हैं आप!
भारत में यह नदी या झील होती तो प्लास्टिक के कचरे से तोप देते भाई लोग!

नीरज गोस्वामी 11/01/2008 11:05:00 AM  

बहुत नयनाभिराम चित्र...हमारे यहाँ ऐसे प्राकर्तिक जगहों की कद्र ही नहीं है...
नीरज

मीत 11/01/2008 11:49:00 AM  

बहुत सुंदर तस्वीरें ...

Parul 11/01/2008 12:47:00 PM  

waah!!!

संगीता पुरी 11/01/2008 12:55:00 PM  

कमाल के चित्र हैं ये।

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन 11/02/2008 07:49:00 AM  

बहुत खूब. किसी सुंदर कविता जैसे मनोरम प्रकृ्ति के रंग!

PN Subramanian 11/02/2008 11:09:00 PM  

द्रिश्य कितने मनोरम हैं. मन करता उड़ चलूं.

नितिन व्यास 11/03/2008 06:24:00 AM  

आप सभी को तस्वीरें पसंद आई, शुक्रिया!

seema gupta 11/03/2008 07:07:00 AM  

" wowww so beautiful and eye catching"

Regards

Anonymous 11/08/2008 05:09:00 AM  

mammy ko bhi bahut pasand aai papa

Neeraj Rohilla 12/09/2008 11:16:00 PM  

वाह, क्या खूब |
बहुत सुंदर, देखकर मन प्रसन्न हो गया |
बस एक इसी बात का अफ़सोस है ह्यूस्टन में कि प्रकृति की मनोरम छटा देखने को नहीं मिलती | लगभग १२ महीने कोई ख़ास फर्क नहीं दिखता | कभी अधिक आद्रता तो कभी बहुत अधिक आद्रता लेकिन दिसम्बर की सर्दी में टी-शर्ट पहनने का अपना ही मजा है :-)

आभार,

sachin vyas 5/10/2009 04:06:00 AM  

greate bhai,your are greate photoghapher.

  © Blogger template 'Solitude' by Ourblogtemplates.com 2008 Customized by Nitin Vyas

Back to TOP